Crime

यस रिसोर्ट पर पुलिस की दबिश, संचालक पवन यादव सहित इकत्तीस लोग गिरफ्तार दस महिला भी हैशामिल, मालिक है रिसोर्ट का गुजराती

गुजरात के एक नामी ग्रुप के बताये जा रहें है लोग, मीडिया का कैमरा देख भागते नजर आये लोग, डीएसटी व स्वरूपगंज पुलिस ने देर रात्रि को दिया कार्रवाई को अंजाम यस रिसोर्ट पर पुलिस कार्रवाई से क्षेत्र में मचा हड़कंप, पुलिस कार्रवाई के बाद यस रिसोर्ट संचालक की कार्यशैली व भूमिका सवालो के दायरे में…!

सिरोही-| ज़िले के स्वरूपगंज थाना क्षेत्र में स्थित यस रिसोर्ट पर मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने दबिश देते हुये रिसोर्ट के संचालक पवन यादव सहित करीब इकत्तीस लोगो को धर दबोचा है। स्वरूपगंज थानाधिकारी कमल सिंह ने बताया कि सभी को शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

गिरफ्तार किये गये सभी लोगो को रविवार सुबह पिण्डवाड़ा उपखंड मजिस्ट्रेट रवि प्रकाश के समक्ष उपखंड न्यायालय में पेश किया गया। जानकारी के अनुसार गिरफ्तार लोग गुजरात के एक नामी ग्रुप के बताये जा रहे हैं। दरअसल पूरी कार्रवाई जिला स्पेशल टीम व स्थानीय स्वरूपगंज थानाधिकारी कमल सिंह मय टीम द्वारा की गई। कार्रवाई से क्षेत्र में जबरजस्त हड़कंप मचा हुआ है। ओर होटल व रिसोर्ट संचालक भी दहशत में है।

गुजरात राज्य के है गिरफ्तार लोग :-

यस रिसोर्ट में कार्रवाई के दौरान गिरफ्तार किये गये करीब इकतीस लोग जिसमे दस महिला भी सम्मिलित हैं, यह सभी लोग गुजरात राज्य के निवासी बताये जा रहें हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार किसी नामी कम्पनी के ग्रुप के लोग थे। जिन्हें पुलिस द्वारा शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया है, ओर न्यायालय में पेश किया गया।

मीडिया का कैमरा देख भागे गिरफ्तार लोग :-

पुलिस द्वारा यस रिसोर्ट पर काईवाई के दौरान गिरफ्तार किये गये लोगो को जैसे ही न्यायालय में पेश करने के लिये ले लाया जा रहा था। तभी मीडिया का कैमरा देख अपना मुंह छुपाकर भागते नजर आये यह गिरफ्तार किये गये लोग। ताकि मीडिया के कैमरे में उनकी फ़ोटो नहीं दूसरी तरफ संचालक भी कैमरे देख अपने आपको छुपाता हुआ नजर आया।

यस रिसोर्ट पर पुलिस कार्रवाई से क्षेत्र में मचा हड़कंप :-

जैसे ही यस रिसोर्ट पर कार्रवाई की सूचना ज़िले में आग की तरह फैली उससे मानो हड़कंप मच गया। आख़िर रिसोर्ट में ऐसा क्या चल रहा था जिससे पुलिस को मध्यरात्रि में जाकर कार्रवाई को अंजाम देना पड़ा है। यह विषय क्षेत्र में गजब का चर्चा में रहा। पुलिस की अचानक से हुई कार्रवाई से लोग भी तमाम प्रकार का कयास लगा रहें हैं।

यस रिसोर्ट की संचालक की कार्यशैली व भूमिका सवालो के दायरे में….?
पुलिस काईवाई के बाद रिसोर्ट संचालक पवन यादव की कार्यशैली व भूमिका गम्भीर सवालो के दायरे में है…?आखिर यस रिसोर्ट में ऐसा क्या हो रहा था जो पुलिस को मध्यरात्रि को करीब डेढ़ बजे दबिश देकर कार्रवाई करनी पड़ी..? यदि सबकुछ ठीक चल रहा था तो फिर पुलिस क्यो अचानक से कार्रवाई करती..? क्या रिसोर्ट में कुछ संदिग्ध गतिविधियों का संचालन होता था….? यदि नहीं तो फिर पुलिस की अचानक से दबिश क्यो हुई फिर..? क्या संचालक द्वारा रिसोर्ट के संचालन हेतु सभी नियम क़ायदे की पालना की जा रहीं है…?

यदि पालना की जा रहीं होती तो फिर पुलिस क्यो कार्रवाई करती ….? क्या रिसोर्ट संचालक द्वारा इन सभी लोगो की रजिस्ट्रर में एंट्री की गई थी किस कार्य से यहा आये, और कहा से आये थे और कबतक रुकने का प्लान था…? क्योकि एंट्री का विधिक प्रावधान है यदि कोई होटल रिसोर्ट में रुकता है तो उसकी एंट्री अनिवार्य रूप से आईडी कार्ड लेकर करनी होती है..?

इनका का कहना

इकत्तीस लोगो को शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। जिसमे यस रिसोर्ट का संचालक पवन यादव भी गिरफ्तारी में शामिल हैं। सभी को रविवार सुबह न्यायालय में पेश कर दिया गया।
“कमल सिंह थानाधिकारी स्वरूपगंज थाना”

रिपोर्ट प्रहलाद पुजारी अम्बाजी

GExpressNews | The latest news from India and around the world. Latest India news on Bollywood, Politics, Business, Cricket, Technology and Travel.

Related Posts

1 of 75

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *